Share

धौंस पड़ी महंगी, पब्लिक ने पूर्व मंत्री को पीटा

बलिया, 1 मई|| सत्ता का नशा है ही ऐसा कि जब तक पास रहे तो चरम पर और छिन जाये तो जिन्दगी हैंगओवर में. लेकिन बसपा शासन काल के पूर्वमंत्री घूरा राम को इस हैंगओवर में रसूख दिखाना महंगा पड़ गया. मंत्री जी के भौकाल को दरकिनार जनता ने उन्हें दौड़ाकर पीटा और ऐसे अन्य नेताओं को सन्देश दे दिया कि वास्तविकता के धरातल पर रहिये और वीआईपी कल्चर से बाहर आइये.

01_05_2015-ghuraram-b घटना शुक्रवार दोपहर की है. मंत्री जी अपना लाव लश्कर लेकर बलिया शहर में निकले थे. रेलवे स्टेशन के पास उनकी कार गुजर रही थी कि वहां एक ट्रक से टकरा गई. इतना देख कर उनके गुर्गे ट्रक ड्राईवर पर टूट पड़े. ड्राईवर माफ़ी की गुहार लगता रहा लेकिन पूर्व मंत्री जी जब सामने हों तो भला गुर्गे पीटने में कमी कैसे करते. पूर्व मंत्री को भी जोश आया और वह भी उतर पड़े बहती गंगा में हाथ धोने.

अब तक वहां खड़ी जनता जो तमाशबीन बनी थी और पूर्व मंत्री और उनके गुर्गों की ज्यादती देख रही थी, उसका जमीर जाग उठा. फिर क्या था जनता ने जमकर पूर्व मंत्री को ‘भीड़तंत्र’ की ताकत दिखा दी. मामले की जानकारी पुलिस को लगी तो उसने वहां पहुंचकर पूर्वमंत्री को भीड़ के हाथों से बचाया.