Share

लखनऊ में पुलिस अधिकारी पर लगा कब्रिस्तान पर कब्जे का आरोप

लखनऊ || गोमतीनगर के उजरियांव इलाके में एक कब्रिस्तान की जमीन पर कब्जे को लेकर सोमवार की सुबह जमकर हंगामा हुआ। कब्जे से नाराज लोगों ने पहले को अवैध कब्जे को गिरा दिया और फिर सड़क जाम कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने विजिनेंस विभाग के डायरेक्टर आईपीएस भानु प्रताप सिंह पर कब्रिस्तान की जमीन पर कब्जा करने का आरोप लगाया है। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। एहतियात के तौर पर इलाके में पुलिस को तैनात कर दिया गया है।

paसलमानी सविता वेलफेयर एसोसिएशन के महामंत्री रिजवान अहमद सलमानी में बताया कि उजरियांव इलाके में सुन्नी वक्त बोर्ड का एक कब्रिस्तान है। इस कब्रिस्तान में कुछ हिस्सा सलमानी समुदाय का है। कब्रिस्तान के पास ही विजिनेंस विभाग के डायरेक्टर आईपीएस भानु प्रताप सिंह का बंगला है। रिजवान अहमद ने बताया कि कुछ समय पहले बंगले के निमार्ण के दौरान आईपीएस ने कब्रिस्तान की जमीन पर अपनी निमार्ण सामग्री रखने की बात कही थी।

इस पर लोगों ने उनको निमार्ण सामग्री रखने की इज्जात दे दी। मकान बनने के बाद भी वहां से निमार्ण सामग्री नहीं हटायी गयी। उन्होंने बताया कि इस बीच आईपीएस अधिकारी ने कब्रिस्तान की जमीन पर तम्बू लगाकर अपने स्टाफ को रहने की जगह दे दी। इस बात का पता चलने पर इलाके के लोगों ने विरोध किया। रविववार की रात शबे बरात के मौके पर जब लोग कब्रिस्तान पहुंचे तो देखा कि कब्रिस्तान की जमीन पर ही कब्जा करने की कोशिश की जा रही है।

यहां तक कि उस पर पक्का निमार्ण के लिए नींव खोद दी गयी और ईंटा, बालू व मौरंग भी ढेर थी। बस इसी बात को लेकर सोमवार की सुबह कब्रिस्तान पर कब्जा के विरोध में सैकड़ों की संख्या में लोग जमा हो गये और हंगामा शुरू कर दिया। लोगों ने पहले अवैध कब्जे को ध्वस्त करते हुए खोदी गयी नींव को पाट दिया और सड़क पर उतर कर प्रदर्शन करने लगे। कब्रिस्तान पर कब्जे व हंगामें की सूचना मिलते ही मौके पर गोमतीनगर पुलिस व अन्य अधिकारी भी पहुंच गये। पुलिस ने किसी तरह लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

लोगों की मांग की थी कि कब्रिस्तान की जमीन पर से कब्जे को फौरन हटाया जाये और उस पर बाउंड्री का निमार्ण कराया जाये। पुलिस ने इस संबंध में प्रशासन के अधिकारियों से बातचीत की और शाम को लोगों को थाने आकर इस बारे में बैठ कर बात करने के लिए कहा। फिलहाल पुलिस के आश्वासन पर लोग शांत हो गये और कब्रिस्तान की जमीन के चारों तरफ तार लगा दिया गया।