Share

डीएम गोंडा ने खराब नलों की मांगी सूची, शीघ्र रिबोर कराने के दिए निर्देश

गोंडा || घटते जल स्तर के कारण नलों के चोक होने की शिकायत को गम्भीरता लेते हुए डीएम आशुतोष निरंजन ने जल निगम के अधिकारियों व ठेकेदारों की आपात बैठक बुलाकर तत्काल प्रभाव से नलों को रिबोर कराने के निर्देश दिए हैं।

dgडीएम ने कलेक्ट्रेट सभागार में अधिशासी अभियन्ता जल निगम व बोर करने वाले इन्जीनियरों एवं ठेकेदारों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि नलों के बोर करने के दौरान मानक का पूरा ध्यान रक्खा जायं उन्होने कहा कि स्वयं उनके द्वारा बोर कराए गए नलों को उखड़वाकर देखेंगें और गड़बड़ी मिलने पर दोषियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

उन्होने कहा कि बार-बार कम पाइप डालने की शिकायतें मिलती हैं। घटते जल स्तर के कारण एवं मानक के अनुरूप बोरिंग गहरी न होने की वजह से तमाम नलों में पानी आना बन्द हो जाता है। इसलिए सभी सम्बन्धित अधिकारी व ठेकेदार हर हाल में यह सुनिश्चित करें कि मानक के अनुरूप बोरिंग गहरी हो और पाइप भी गुणवत्तापरक डाली जाय।

उन्होने एक्सईएन जल निगम को निर्देश दिए हैं कि एक सप्ताह के भीतर जनपद के सभी ब्लाकों में खराब पड़े नलों की सूची उन्हें उपलब्ध करा दें तथा यह भी सुनिश्चित करें कि खराब नल कि रिबोर करने की स्थिति में हैं उन्हें रिबोर कराकर चालू हालत में किया जाय जिससे भीषण गर्मी में लोगों को पेयजल मिल सके।

बैठक में अधिशासी अभियन्ता जल निगम राजेन्द्र सिंह, खण्ड विकास अधिकारीगण, जल निगम के इन्जीनियर एंव ठेकेदार उपस्थित रहे।