Share

चुनाव से पहले अखिलेश सरकार ने अपनी हार मानी : केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ || भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने आज कहा कि सहकारी संस्थाओं में समय से पूर्व चुनाव कराने से यह साफ है कि 2017 के विधान सभा चुनावों के पहले ही अखिलेश यादव अपनी हार मान चुके हैं। मौर्य ने सपा पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि ध्वस्त कानून व्यवस्था, नियुक्तियों में भारी भ्रष्टाचार के चलते प्रदेश के भविष्य युवाओं के जीवन के साथ खिलवाड़ हुआ है।

kpmआयोगों में की गई नियिुक्तयों में पारदर्शिता का पूरी तरह अभाव है। भ्रष्टाचार, अवैध कब्जों, वसूली के चलते प्रदेश की अखिलेश सरकार जनता द्वारा दिए गए विश्वास का मखौल उड़ाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में व्यक्त अराजकता से त्रस्त जनता ने प्रदेश से भ्रष्टाचार व अराजकता की सफाई का मन बना लिया है। वह हमारी परिवर्तन यात्राओं में उमड़ते जन उत्साह से प्रभावित है। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार समाजवादी पार्टी की प्रदेश की अन्तिम सरकार है।

भाजपा अध्यक्ष ने प्रदेश के जिला सहकारी बैंकों तथा शीर्ष सहकारी संस्थाओं के चुनाव र्निधारित समय से पूर्व कराने की प्रक्रिया को तुरन्द रद्द किये जाने हेतु सरकार से मांग की हैं। उन्होनें निर्वाचन आयोग से सहकारी संस्थाओं के चुनाव प्रक्रिया को तुरन्त रद्द किये जाने की मांग की है। उनहोने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल जी से मांग की हैं वह समय से पूर्व सहकारी सस्थाओं के चुनाव प्रक्रिया को संज्ञान ले।