Share

गोंडा में ई-गवर्नेन्स को मजबूत करने की कवायद शुरू

गोंडा || ई-गवर्नेन्स को मजबूत करने, जन शिकायतों के आनलाइन निस्तारण में तेजी लाने एवं राजस्व सम्बन्धी सूचनाओं को एनआईसी की वेबसाइट पर अपलोड करने, लोकवाणी एवं जनसुविधा केन्द्रों के सुचारू संचालन व अन्य विभागीय योजनाओं के सुचारू रूप से क्रियान्वयन के लिए डीएम आशुतोष निरंजन ने कलेक्ट्रेट सभागार में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक कर समस्याओं एवं उनके निराकरण पर गहन चर्चा की।

egovजनपद में पिछले एक माह से खराब चल रही इन्टरनेट सेवा को लेकर डीएम ने बीएसएनएल के टीडीएम को बैठक में बुलाया था परन्तु टीडीएम स्वयं बैठक में न आकर जेटीओ को डीएम की मीटिंग में भेज दिया जिससे नाराज डीएम ने जेटीओ को मीटिंग से बाहर कर दिया तथा टीडीएम को पत्रावली के साथ तलब किया है।

डीएम ने कहा कि जन शिकायतों के पारदर्शी निस्तारण हेतु मुख्यमंत्री द्वारा प्रारम्भ की समेतिक शिकायत निवारण प्रणाली की प्रगति कुछ अधिकारियों की लापरवाही व एलआईसी द्वारा बराबर सहयोग न मिलने के कारण धीमी है। इसलिए एलआईसी के साथ-साथ जो भी सम्बन्धित विभाग या अधिकारी उत्तरदायी हों वे अब सिस्टम में सुधार कर लें।

जनसुविधा केन्द्रों की समीक्षा करते हुए उन्होने कहा कि जिन भी कार्यदायी कम्पनियों द्वारा ग्राम पंचायत स्तर पर जनसुविधा केन्द्र खोले जाने हैं वे तत्काल कार्य प्रारम्भ कर दें। समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि जनपद में कुल 1151 जनसुविधा केन्द्र खोले जाने हैं परन्तु अब तक मात्र 141 केन्द्र ही खोले जा सके हैं। इस पर डीएम ने सेवा प्रदाता कम्पनियों के प्रतिनिधियों एक माह का समय देते हुए निर्देश दिए हैं कि निर्धारित समय सीमा के भीतर लक्ष्य के अनुरूप जनसुविधा केन्द्र खोलें जिससे गांव स्तर पर लोगों को सुविधाएं मिल सके।

बैठक में भू-अभिलेखों जैसे खतौनी आदि को राजस्व की वेबसाइट पर समय से अपलोड न करने की शिकायत पर डीएम ने जिला सूचना विज्ञान अधिकारी को रूचि लेकर समय से डाटा वेबसाइट पर अपलोड कराने की नसीहत दी है। इसके अलावा विभागीय डाटा की फीडिंग के लिए तत्काल प्रभाव से ईगवर्नेन्स सोसाइटी द्वारा आवश्यकतानुसार कम्प्यूटर, पावर बैकअप व बेहतर नेट सुविधा के लिए आवश्यक उपकरणों का तत्काल प्रबन्ध कराने के निर्देश नगर मजिस्ट्रेट को दिए हैं।

बैठक में सीडीओ जयन्त कुमार दीक्षित, एएसपी आर0के0 सिंह, नगर मजिस्ट्रेट अरूण कुमार शुक्ला, एसडीएम सदर अविनाश कुमार, एसडीएम करनैलगंज अनिल मिश्र, अपर उपजिलाधिकारी राम विलास राम, मुख्य कोषाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अमर सिंह कुशवाहा, बीएसए, समाज कल्याण अधिकारी, पीडी वीरपाल, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी, ईडीएम अमित गुप्ता, राजेश पाण्डेय सहित सेवा प्रदाता कम्पनियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।